Kangana Ranaut Slapped:जानिए क्या था कारण कंगना रनौत को थप्पड़ मारने का - onedaynews.co.in

Kangana Ranaut Slapped:जानिए क्या था कारण कंगना रनौत को थप्पड़ मारने का

Photo of author

By onedaynews.co.in

Kangana Ranaut Slapped:जानिए क्या था कारण कंगना रनौत को थप्पड़ मारने का

हिंदी सिनेमा की एक्ट्रेस और मंडी लोकसभा सीट से सांसद कंगना रनौत (Kangana Ranaut Slapped) फिलहाल चर्चा का विषय बनी हुई हैं। कल दिल्ली आते वक्त चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर कंगना को सीआईएसएफ (CISF) महिला सुरक्षाकर्मी ने थप्पड़ जड़ दिया जिसके चलते नया विवाद खड़ा हो गया है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कंगना रनौत ने ऐसा कौन सा बयान दिया था जिसकी वजह से उनके साथ ऐसा हुआ है।

 

 

कंगना रनौत एक महान अदाकारा हैं जिन्होंने अपनी अभिनय कला के जरिए हिंदी सिनेमा में अपनी अलग पहचान बनाई है। उन्होंने अपने विचारों और अभिनय की क्षमता से लोगों का दिल जीता है। कंगना रनौत का किरदार न जाने कितने लोगों को प्रेरित करता है और उन्हें सोचने पर मजबूर करता है। चंडीगढ़ में अभिनेत्री और हाल ही में लोकसभा सदस्य के पद पर निर्वाचित हुईं कंगना रनौत के सीआईएसएफ महिला जवान द्वारा थप्पड़ मारने के मामले में अब किसान नेता भी सामने आ गए हैं। शंभू बाॅर्डर पर धरना दे रहे किसान मजदूर मोर्चा के पदाधिकारी और बीकेयू शहीद भगत सिंह के नेता तेजवीर सिंह ने एक वीडियो जारी किया। जिसमें वह महिला जवान के समर्थन में बोलते दिखाई दिए।

चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर कंगना रनौत से बदसलूकी की गई.

एंटरटेनमेंट डेस्क, नई दिल्ली।

कंगना रनौत के खिलाफ हलचल के बीच कल दिल्ली आते वक्त एयरपोर्ट पर हुए घटना ने सभी को चौंका दिया। CISF महिला सुरक्षाकर्मी ने कंगना रनौत को थप्पड़ मार दिया जिससे नई नवेली सांसद कंगना रनौत को चोट पहुंची। इस घटना की वजह से एक तरफ लोगों में हलचल मच गई है जबकि दूसरी ओर कुछ लोग इसको आपत्ति के रूप में देख रहे हैं।

कंगना रनौत ने हाल ही में एक इंटरव्यू में बताया था कि वे लोगों के सामने सचाई और न्याय के लिए खड़ी हैं। वे उन लोगों की बात बिना सुनें इन्हें गलत ठहराने के खिलाफ हैं और विचारों को स्वतंत्रता से रखने का समर्थन करती हैं। इसी कारण कंगना रनौत ने उस महिला सुरक्षाकर्मी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

तेजवीर सिंह ने कहा कि कहा कि वीडियो फैलाया जा रहा है कि कंगना के थप्पड़ मारा। हम मांग करते हैं कि पहले तो वह वीडियो (जिसमें कंगना को थप्पड़ लगाते हुए जवान दिख रही है) जब्त की जाए और सभी तथ्यों की सरकार जांच करे। जिस प्रकार से कंगना का स्वभाव रहा है वह नया नहीं है।

Kanagana Ranaut slapped by CISF personnel at Mohali Airport

इससे पहले शेखर सुमन के बेटे, ऋतिक रोशन, साइन आहूजा के ऊपर इन्होंने झूठे आरोप लगाए थे। चुनाव के दौरान जिस प्रकार की इन्होंने शब्दावली का प्रयोग किया है वह भी माफी के लायक नहीं है। जहां एक थप्पड़ की घटना को इतना बड़ा बनाया जा रहा है, प्रोपगैंडा फैलाया जा रहा है ताे यह भी याद रखना होगा कि हजारों आंसू गैस के गोले किसानों के ऊपर चलाए गए, किसान शुभकरण के ऊपर गोली चलाई गई और उसकी हत्या कर दी गई।
शंभू मोर्चे पर बैठे किसानों की दशा देखो। कई किसानों की आंखें चली गईं। पूरे देश का किसान अपनी बेटी, बहन कुलविंदर कौर के साथ खड़ा है। वह भागीं नहीं बल्कि उन्होंने मीडिया के सामने आकर कहा कि इन्होंने पहले अभद्रता की थी। इस मामले में हम चाहते हैं कि पहले कंगना की डोपिंग जांच करने की भी मांग करते हैं।

कंगना रनौत की ये घटना दिल्ली और चंडीगढ़ के राजनीतिक हलचल की तरह एक मुद्दा बन चुकी है। इस विवाद के बीच मंडी लोकसभा सीट से सांसद बनने वाली कंगना रनौत की इस घटना से उनकी संघर्षपूर्ण राजनीतिक करियर पर भी असर पड़ सकता है।

Constable Who 'Slapped' Kangana Ranaut Suspended, Arrested

दो साल से चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर तैनात हैं कुलविंदर कौर

वहीं कुलविंदर कौर करीब दो साल से चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर तैनात हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस घटना से पहले तक उनका सर्विस रिकॉर्ड अच्छा रहा है. उनकी 15 साल की सर्विस में इस तरह का कोई मामला सामने नहीं आया है. 35 साल की कुलविंदर पंजाब के कपूरथला जिले के सुल्तानपुर लोधी की रहने वाली हैं. कुलविंदर कौर के पति भी सीआईएसएस में हैं. उनके दो बच्चे भी हैं.

 

 

दूसरी तरफ इस घटना पर दिल्ली पहुंचने के बाद कंगना रनौत ने ‘एक्स’ पर ‘पंजाब में आतंक और हिंसा में हैरान करने वाली वृद्धि’ शीर्षक से एक वीडियो बयान पोस्ट किया. कंगना ने वीडियो में कहा कि वह सुरक्षित और ठीक हैं. कंगना ने कहा कि उन्हें मीडिया और अपने शुभचिंतकों से ढेरों फोन आ रहे हैं.अ भिनेत्री ने कहा कि महिला सिपाही उनकी ओर आई. कंगना ने कहा, ‘‘उसने मुझे थप्पड़ मारा और मुझे गाली देनी शुरू कर दी.’’उन्होंने कहा, ”जब मैंने उससे पूछा कि उसने ऐसा क्यों किया, तो उस सिपाही ने कहा कि वह किसान आंदोलन का समर्थन करती है.”उन्होंने कहा, ”मैं सुरक्षित हूं, लेकिन पंजाब में बढ़ते आतंकवाद को लेकर मैं चिंतित हूं. हम उसे कैसे संभालेंगे?”

इस मामले में कंगना रनौत के सामर्थ्य और सजगता की परीक्षा है। उन्हें यहां तक पहुंचाने वाले अन्य कारणों में से एक है कि वे सच्चाई के लिए लड़ने के लिए तैयार हैं। अब यह देखना है कि कंगना रनौत इस मुद्दे को कैसे संभालती हैं और क्या यह उनकी राजनीतिक करियर पर कोई प्रभाव डालता है।

आखिरकार, इस पूरे मामले में हमें यह भी सोचना चाहिए कि क्या वाकई सच्चाई की प्रतिष्ठा और न्याय हमारे समाज के लिए कितनी महत्वपूर्ण है। हमें इस विवाद के बारे में गहराई से विचार करना चाहिए और सही और गलत की पहचान करनी चाहिए। क्योंकि एक समर्थित समाज वही है जो सच और न्याय के मार्ग पर चलता है।

इस तरह की घटनाओं से हमें यह सिखना चाहिए कि हमें हमेशा सत्य की सीरी में अपना रास्ता चलना चाहिए और अन्यों की सुरक्षा और सम्मान का ख्याल रखना चाहिए। कंगना रनौत की ये विवादित कार्रवाई पर गहराई से विचार करने के बाद हमें उनके साथ समर्थन में खड़े होना चाहिए।

कंगना रनौत समाज में एक महत्वपूर्ण स्थान रखती हैं और उनका योगदान हमेशा सराहनीय रहा है। इस तरह की घटनाओं से हमें यह भी सिखना चाहिए कि हमें समाज में विचारों के विवादों का समाधान करने के लिए साथ मिलकर काम करना चाहिए।

समाप्ति में, हमें यही कहना चाहिए कि कंगना रनौत की इस घटना को सही तरीके से समझने और समर्थन करने की आवश्यकता है। उन्होंने हमेशा हमारे समाज के लिए उन्नति और सच्चाई की ओर यात्रा की है और इस कठिन समय में हमें उनके साथ खड़े होकर उनका साथ देना चाहिए।

 

 

 

 

TAGGED: –

 

 

 

 

Follow Us